अपना खाता बिहार खसरा खतौनी ऑनलाइन निकालें

अपना खाता बिहार खसरा खतौनी बिहार भूमि, भूलेख नक्शा,जमाबंदी: बिहार में रहने वाले नागरिक भी अब हर राज्य की तरह अपनी जमीन जायदाद की जानकारी कंप्यूटर के माध्यम से ऑनलाइन जान सकते हैं। इसके लिए सरकार द्वारा सीएससी सेंटर शुरू किए गए हैं और घर बैठे बिहार राजस्व विभाग की आधिकारिक वेबसाइट के द्वारा भी इसकी जानकारी निकाल सकते हैं। पहले लोगों को अपना खाता खसरा खतौनी की नकल भूलेख भू नक्शा की नकल निकालने के लिए तहसीलदार पटवारी और कलेक्ट्रेट कि ऑफिस जाना पड़ता था। अब लोगों के लिए बिहार राजस्व और भूमि सुधार विभाग द्वारा वेबसाइट पोर्टल लॉन्च किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से बिहार भूलेख और इससे जुड़ी ही भूमि की जानकारी लोग आसानी से निकाल सकते हैं।

बिहार सरकार द्वारा यह कदम आम आदमियों की परेशानी को दूर करने के लिए उठाया गया है। राजस्व विभाग द्वारा इस वेबसाइट से लोगों को तहसील जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी और समय और पैसे की बचत भी होगी। इसमें जिसे भी भूमि की जानकारी निकालनी है वह आसानी से ऑनलाइन वेबसाइट में जाकर बेसिक जानकारी उसमें भर के खाता खतौनी खसरा भूलेख भू नक्शा इत्यादि सभी को आसानी से देख सकते हैं। सरकार द्वारा भू नक्शा की जानकारी और भोले की जानकारी समय-समय पर अपडेट कर दी जाती है इसमें राजस्व विभाग द्वारा कुछ ही जगह जो छूट गई है उन्हें भी अपडेट किया जा रहा है। आगे आपको हम यह बताएंगे कि बिहार लैंड रिकॉर्ड पोर्टल कैसे काम करता है और इससे कितनी आसानी से आप अपनी जानकारी निकाल सकते हैं।

 बिहार अपना खाता ऑनलाइन कैसे निकाले। Apna Khata Bihar

  • सबसे पहले बुधवार को राजस्व विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंग यह है

  • राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद दाएं तरफ सबसे ऊपर अपना खाता देखें वहां पर क्लिक करना होगा।
  • “अपना खाता देखें”  पर क्लिक करने के बाद नया पेज खुलेगा जिसमें आपको जिला अनुमंडल अंचल मौजे का नाम इत्यादि जानकारी भरनी पड़ेगी

  • इसके पश्चात आपको अपना खाता देखने के लिए बहुत सारे विकल्प मिलेंगे जिसमें आप किसी एक को चुन के अपना खाता बिहार देख सकते हैं। विकल्पों में निम्नलिखित
  1.  मौजा के समस्त खातों को नामा अनुसार देखें।
  2. मौजा के खातों को खसरा संख्या से देखें
  3. खसरा संख्या से
  4. खाता संख्या से
  5. खाताधारक के नाम से देखें (ध्यान रहे हिंदी में खाता धारी का नाम लिखने के लिए नाम को अंग्रेजी में लिखकर स्पेस बार दबाए जिससे वह खुद ही हिंदी में लिखा जाएगा)
  • सारी जानकारी भरने के बाद आप खाता खोजें वाले विकल्प पर क्लिक करें और आपके सामने अपना खाता की जानकारी आ जाएगी।

बिहार भूलेख नकल खसरा-खतौनी ऑनलाइन देखें | Bihar Bhulekh, Khasra, Khatauni, Jamabandi Nakal Online

  • अब दाखिला खारिज जमाबंदी आदि को ऑनलाइन देखा जा सकता है इसके लिए आपको http://biharbhumi.bihar.gov.in/ की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • क्लिक करने के बाद आपको वेबसाइट का होम पेज पर जमाबंदी पंजी देखें” लिंक पर क्लिक करना होगा

  • तत्पश्चात आपको अपना जिला और सर्किल को विकल्पों में चुनना होगा।इन सब को सेलेक्ट करने के बाद आपको सर्च वाले बटन पर क्लिक करना होगा।

  • इसके बाद आप खतियान और जमाबंदी वाला विकल्प चुने।
  • अंत में रजिस्टर वाला विकल्प आएगा जिस पर आप को क्लिक करके बिहार भूलेख खसरा खतौनी की नकल को देख सकते हैं।

बिहार भू-नक्शा | Bihar Bhu Naksha (Plot Map) View Online

  • भू नक्शा देखने के लिए राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग बिहार की आधिकारिक वेबसाइट में जाना होगा जो कि http://bhunaksha.bih.nic.in/
  • वेबसाइट में जाने के बाद आपको अपना जिला चुनना होगा और उसके बाद सब डिविजन सरकर मौजा टाइप और सीट का भी चुनाव करना होगा यह सब चुनाव करने के बाद आपको एक नक्शा दिखाई देगा।

  • उसके पश्चात आपको नक्शा में अपनी खसरा संख्या को ढूंढ के उसके ऊपर क्लिक करना होगा।
  • खसरा संख्या को जैसे ही आप क्लिक करेंगे उसके बाद जो भी उस खसरा संख्या का मालिक है या आप हैं उसकी जानकारी दिखाई देगी। इस जानकारी के देखने के इस के सबसे अंत में मैप रिपोर्ट या r-o-r रिपोर्ट ( “Map Report” और “ROR Report”) दिखाई देगी।
  • जो मैप रिपोर्ट “Map Report” होता है उसी से हम अपना नक्शा देख सकते हैं उस पर क्लिक करने के बाद नक्शा ऑनलाइन खुल जाता है जिसका एक उदाहरण नीचे दिया हुआ है

  • Map खुलने के बाद आप इस रिपोर्ट को पीडीएफ फाइल के रूप में डाउनलोड करके सेव भी कर सकते हो और डाउनलोड भी कर सकते हो।

Apna Khata  Bihar Helpline

कार्यालय का पता- प्रमुख सचिव, राजस्व और भूमि सुधार विभाग, पुराना सचिवालय, बेली रोड, (800-005) पटना

टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर  1800-345-6215

आधिकारिक ईमेल आईडी –  [email protected]

Leave A Reply

Your email address will not be published.